अभी-अभी : SC-ST एक्ट पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

PATNA : नए SC/ST एक्ट यानी 2018 के संशोधित एससी-एसटी कानून (SC/ST Act) पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट ने इनकार कर दिया है। अब सुप्रीम कोर्ट मामले की सुनवाई 19 फरवरी को करेगा। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मार्च 2018 के फैसले के बाद कानून में संशोधन किया गया है। इसे लेकर केंद्र ने पुर्नविचार याचिका दाखिल की है। नए कानून को लेकर भी जनहित याचिकाएं दाखिल हैं। ऐसे में पीठ सारे मामलों की एक साथ सुनवाई करेगी। इस मामले में विस्तृत सुनवाई की जरूरत है। करने गए थे टूटी सड़क की शिकायत, पार्षद ने ठोंका 100 लोगों पर SC-ST एक्ट के तहत मुकदमा, जानें पूरा मामला
सुप्रीम कोर्ट ने आज स्पष्ट कह दिया है कि SC/ST अत्याचार निवारण (संशोधन ) कानून 2018 पर फिलहाल रोक नहीं है। यानी मामले में अग्रिम जमानत ना होने का प्रावधान फिलहाल बरकरार रहेगा और गिरफ्तारी से पहले इजाजत लेने की भी जरूरत नहीं होगी।
बता दें कि सुप्रीम कोर्ट एससी-एसटी एक्ट में बदलाव से जुड़ी सभी याचिकाओं पर एक साथ सुनवाई कर रहा है। 2018 में सुप्रीम कोर्ट ने तुरंत गिरफ्तारी पर रोक लगाई थी। उसके बाद कानून में संशोधन सर सरकार ने वो प्रावधान फिर जोड़ा। अब फै..

PATNA : नए SC/ST एक्ट यानी 2018 के संशोधित एससी-एसटी कानून (SC/ST Act) पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट ने इनकार कर दिया है। अब सुप्रीम कोर्ट मामले की सुनवाई 19 फरवरी को करेगा। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मार्च 2018 के फैसले के बाद कानून में संशोधन किया गया है। इसे लेकर केंद्र ने पुर्नविचार याचिका दाखिल की है। नए कानून को लेकर भी जनहित याचिकाएं दाखिल हैं। ऐसे में पीठ सारे मामलों की एक साथ सुनवाई करेगी। इस मामले में विस्तृत सुनवाई की जरूरत है। करने गए थे टूटी सड़क की शिकायत, पार्षद ने ठोंका 100 लोगों पर SC-ST एक्ट के तहत मुकदमा, जानें पूरा मामला

सुप्रीम कोर्ट ने आज स्पष्ट कह दिया है कि SC/ST अत्याचार निवारण (संशोधन ) कानून 2018 पर फिलहाल रोक नहीं है। यानी मामले में अग्रिम जमानत ना होने का प्रावधान फिलहाल बरकरार रहेगा और गिरफ्तारी से पहले इजाजत लेने की भी जरूरत नहीं होगी।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट एससी-एसटी एक्ट में बदलाव से जुड़ी सभी याचिकाओं पर एक साथ सुनवाई कर रहा है। 2018 में सुप्रीम कोर्ट ने तुरंत गिरफ्तारी पर रोक लगाई थी। उसके बाद कानून में संशोधन सर सरकार ने वो प्रावधान फिर जोड़ा। अब फैसले के खिलाफ सरकार की रिव्यू पिटीशन और कानून में बदलाव को चुनौती पर एक साथ सुनवाई होगी। इन याचिकाओं पर जस्टिस यूयू ललित और जस्टिस इंदु मल्होत्रा की बेंच सुनवाई कर रही है।

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल 20 मार्च को दिये गए फैसले में एससी-एसटी कानून के दुरुपयोग पर चिंता जताते हुए दिशा निर्देश जारी किये थे। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि एससी एसटी अत्याचार निरोधक कानून में शिकायत मिलने के बाद तुरंत मामला दर्ज नहीं होगा डीएसपी पहले शिकायत की प्रारंभिक जांच करके पता लगाएगा कि मामला झूठा या दुर्भावना से प्रेरित तो नहीं है। इसके अलावा इस कानून में एफआईआर दर्ज होने के बाद अभियुक्त को तुरंत गिरफ्तार नहीं किया जाएगा। सरकारी कर्मचारी की गिरफ्तारी से पहले सक्षम अधिकारी और सामान्य व्यक्ति की गिरफ्तारी से पहले एसएसपी की मंजूरी ली जाएगी। इतना ही नहीं कोर्ट ने अभियुक्त की अग्रिम जमानत का भी रास्ता खोल दिया था।

सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद देशव्यापी विरोध हुआ था, जिसके बाद सरकार ने कानून को पूर्ववत रूप में लाने के लिए एससी एसटी संशोधन बिल संसद में पेश किया था और दोनों सदनों से बिल पास होने के बाद इसे राष्ट्रपति के पास मंजूरी के लिए भेजा गया था।

राष्ट्रपति की मंजूरी मिलने के बाद संशोधन कानून प्रभावी हो गया। इस संशोधन कानून के जरिये एससी एसटी अत्याचार निरोधक कानून में धारा 18 ए जोड़ी गई है जो कहती है कि इस कानून का उल्लंघन करने वाले के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने से पहले प्रारंभिक जांच की जरूरत नहीं है और न ही जांच अधिकारी को गिरफ्तारी करने से पहले किसी से इजाजत लेने की जरूरत है। संशोधित कानून में ये भी कहा गया है कि इस कानून के तहत अपराध करने वाले आरोपी को अग्रिम जमानत के प्रावधान (सीआरपीसी धारा 438) का लाभ नहीं मिलेगा यानी अग्रिम जमानत नहीं मिलेगी। संशोधित कानून में साफ कहा गया है कि इस कानून के उल्लंघन पर कानून में दी गई प्रक्रिया का ही पालन होगा और अग्रिम जमानत नहीं मिलेगी।

In the news
post-image
Bihar News

सुशील मोदी ने तेजस्वी से किया सवाल, क्या बेनामी संपत्ति रखना,सरकारी पैसे से विलास करना नयी सोच?

Patna: भाजपा के वरिष्ठ नेता सह बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने एक बार फिर से तेजस्वी यादव पर जमकर हमला बोला है। इस बार उन्होंने सरकारी बंगले...
post-image
Bihar News

मांझी ने कांग्रेस पर लगाया आरोप, कहा-महागठबंधन में कांग्रेस के कारण आ रही दिक्कत

Patna: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (रिम्स) में भर्ती चारा घोटाला के सजायाफ्ता राजद...
post-image
Bihar News

शाहनवाज हुसैन ने पाकिस्तान पर साधा निशाना, कहा-खून पीने वालों को पानी की जरूरत नहीं

Patna: पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के फायर ब्रांड नेता शाहनवाज हुसैन ने पुलवामा हमले को लेकर एक बार फिर से पाकिस्तान पर निशाना साधा है। मुजफ्फरपुर पहुंचे बीजेपी...
post-image
Bihar News

फरवरी महीने में आसमान से बरस रहा कहर, पटना में पारा पहुंचा 31.4 डिग्री पर

Patna: बिहार की राजधानी पटना का मौसम फरवरी में ही गर्मी वाला हो गया है। जहां तेज धूप के कारण स्वेटर से तौवा कर शर्ट और टी-शर्ट निकल आई...
post-image
Bihar News

बिहार में ट्रैक्टर और गाड़ी में हुई टक्कर, गुस्साए गाड़ी सवार लोगों ने ट्रैक्टर चालक को जिं’दा जलाया

Patna: बिहार में शनिवार की सुबह एनएच-28 पर ट्रैक्टर और फॉर्च्यूनर गाड़ी की टक्कर हो गयी। जिसके बाद गुस्साए फॉर्च्यूनर सवार लोगों ने ट्रैक्टर चालक को ट्रैक्टर सहित जिं’दा...
Load More